Pm Narendra Modi In Akshaya Patra Foundation Program Vrindavan – हमारी सरकार ने बचपन के आसपास बनाया मजबूत सुरक्षा घेरा: पीएम मोदी

0
15


ख़बर सुनें

वृंदावन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अक्षय पात्र फाउंडेशन के कार्यक्रम में गरीब बच्चों को भोजन परोसा। यह कार्यक्रम फाउंडेशन द्वारा गरीब बच्चों को 300 करोड़वीं थाली परोसे जाने के उपलक्ष्य में आयोजित किया गया। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने स्वच्छता और स्वस्थ बचपन पर जोर दिया। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने बचपन के आसपास मजबूत सुरक्षा घेरा बनाने का प्रयास किया है। इस सुरक्षा के तीन पहलू हैं, खानपान, टीकाकरण और स्वच्छता। अब बदली परिस्थितियों में पोषकता के साथ, पर्याप्त और अच्छी गुणवत्ता वाला भोजन बच्चों को मिले, ये सुनिश्चित किया जा रहा है। 

मोदी ने कहा कि स्वास्थ्य का सीधा संबंध पोषण से है, यदि हम पोषण के अभियान को हर माता तक पहुंचाने में सफल हुए तो अनेक जीवन बच जाएंगे। इसी सोच के साथ हमारी सरकार ने पिछले वर्ष राजस्थान के झूंझनू से देशभर में राष्ट्रीय पोषण मिशन की शुरुआत की थी। 

प्रधानमंत्री ने बताया कि हमने टीकाकरण अभियान को मिशन मोड में चलाने का फैसला किया। मिशन इंद्रधनुष से देश में लगभग 3 करोड़ 40 लाख बच्चों और 90 लाख गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण किया गया है। जिस गति से काम हुआ है, उससे तय है कि सम्पूर्ण टीकाकरण का हमारा लक्ष्य अब दूर नहीं है। 

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जब बच्चों के स्वास्थ्य की बात होती थी तो मां के दुख तकलीफ को नजर अंदाज कर दिया जाता था, लेकिन अब इस स्थिति को बदलने का प्रयास किया जा रहा है। गौ माता के दूध का कर्ज इस देश के लोग नहीं चुका पाएंगे। गाय हमारी संस्कृति और परंपरा का महत्वपूर्ण हिस्सा रही है। 

नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारी सरकार द्वारा सुनिश्चित किया जा रहा है कि पोषकता के साथ, अच्छी गुणवत्ता वाला भोजन बच्चों को मिले। जैसे मजबूत इमारत के लिए नींव का ठोस होना जरूरी है। वैसे ही विकसित देश के लिए शक्तिशाली और पोषित बचपन का होना जरूरी है। 

 

मोदी ने कहा कि इस बार प्रयागराज कुम्भ के मेले ने देश को स्वच्छता का संदेश देने में सफलता पाई है। आम तौर पर कुम्भ में नागा बाबाओं की चर्चा होती है, पहली बार न्यूयॉर्क टाइम्स ने कुम्भ की स्वच्छता को लेकर रिपोर्ट छापी है। 

उन्होंने कहा कि गंदगी बच्चों के लिए घातक सिद्ध होती है। पांच वर्ष से कम आयु के बच्चों को डायरिया से सबसे ज्यादा खतरा होता है। स्वच्छ भारत अभियान के माध्यम से हमने इस बीमारी को खत्म करने का बीड़ा उठाया है। साफ सफाई की ये ताकत है जो गरीब को बिना किसी खर्च के जीवनदान दे रहा है।

प्रधानमंत्री मोदी ने लाखों गरीब बच्चों को भोजन उपलब्ध करने के लिए अक्षय पात्र फाउंडेशन को साधुवाद और शुभकामना दी।  मोदी ने गीता के श्वलोक का उदाहण देते हुए कहा कि जो दान कर्तव्य समझकर उचित समय और योग्य व्यक्ति को दिया जाता है, उसे सात्विक दान कहते हैं।  

अक्षय पात्र फाउंडेशन के कार्यक्रम की शुरुआत स्कूली बच्चों ने सरस्वती वंदना गाकर की। इसके बाद प्रधानमंत्री ने अक्षय पात्र की प्रेरणा श्री प्रभुपाद की प्रतिमा पर पुष्पार्जन किया। मंच पर प्रधानमंत्री मोदी के साथ मंच पर राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, कैबिनेट मंत्री और भाजपा सांसद मौजूद रहे।

कार्यक्रम स्थल पर सुबह ही स्कूल बच्चे, साधु-संत का आना शुरू हो गया था। आगुंतकों की सघन तलाशी के बाद अंदर प्रवेश दिया गया। कार्यक्रम में भाजपा के कार्यकर्ता और दानदाता भी पहुंचे। पूरा पंडाल साधु-संत, स्कूली बच्चे समेत हजारों लोग से खचाखच भरा था। उधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन को लेकर वृंदावन में सुरक्षा चाक चौबंद रही। 

वृंदावन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अक्षय पात्र फाउंडेशन के कार्यक्रम में गरीब बच्चों को भोजन परोसा। यह कार्यक्रम फाउंडेशन द्वारा गरीब बच्चों को 300 करोड़वीं थाली परोसे जाने के उपलक्ष्य में आयोजित किया गया। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने स्वच्छता और स्वस्थ बचपन पर जोर दिया। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने बचपन के आसपास मजबूत सुरक्षा घेरा बनाने का प्रयास किया है। इस सुरक्षा के तीन पहलू हैं, खानपान, टीकाकरण और स्वच्छता। अब बदली परिस्थितियों में पोषकता के साथ, पर्याप्त और अच्छी गुणवत्ता वाला भोजन बच्चों को मिले, ये सुनिश्चित किया जा रहा है। 

मोदी ने कहा कि स्वास्थ्य का सीधा संबंध पोषण से है, यदि हम पोषण के अभियान को हर माता तक पहुंचाने में सफल हुए तो अनेक जीवन बच जाएंगे। इसी सोच के साथ हमारी सरकार ने पिछले वर्ष राजस्थान के झूंझनू से देशभर में राष्ट्रीय पोषण मिशन की शुरुआत की थी। 


आगे पढ़ें

‘गौ माता के दूध का कर्ज नहीं चुका पाएंंगे लोग’





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here