Lok Sabha Chunav 2019: Pm Narendra Modi And Amit Shah Press Conference – Live: पांच साल में पीएम मोदी की पहली प्रेस कांफ्रेंस, कहा- 17 मई 2014 को हुई थी ईमानदारी की शुरुआत

0
22


सातवें चरण के चुनाव प्रचार के अंतिम दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह प्रेस कांफ्रेंस कर रहे हैं। पांच साल में ये पहली बार है जब पीएम मोदी ने प्रेस कांफ्रेंस की है। इस दौरान अमित शाह ने मोदी सरकार की उपलब्धियों को सामने रखा। पहले अमित शाह ने अपनी बात रखी और मोदी उनके साथ बैठे रहे। इसके बाद पीएम मोदी ने अपनी बात रखी। 

 

पीएम मोदी ने क्या-क्या कहा

-पहले मैं आपके साथ ही चाय पीता था। मध्यप्रदेश से सीधा आया हूं।
-2014 चुनाव में आईपीएल बाहर कराना पड़ा था। 
-बहुत लंबे समय बाद देश में ऐसा होगा जब लगातार दूसरी बार कोई पूर्ण बहुमत वाली सरकार आएगी।
-सरकार सक्षम होती है तो रमजान भी होता है, आईपीएल भी चलता है, बच्चों का एक्जाम भी चलता है। 
-जनता पहले से ज्यादा बढ़ चढ़कर आशीर्वाद दे रही है।
-पिछली बार 16 मई को नतीजा आया था। 17 मई को बहुत बड़ी कैजुल्टी हुई थी, आज भी 17 मई है। सट्टाखोरों को मोदी की हाजिरी का अरबो-खरबों का घाटा हुआ था।
-तब सट्टा कांग्रेस की 150 सीटों के लिए चलता था, भाजपा का 200 के आसपास चलता था, सबके सब डूब गए थे। ईमानदारी की शुरुआत 17 मई को हो गई थी।

अमित शाह ने कहा- 

– हमारी सरकार फिर से बनने जा रही है। 
-मोदी ने हर योजना पर कड़ी नजर रखी है। 
-5 साल में 133 योजनाएं लेकर आए।
-मोदी सरकार ने दुनिया में देश का मान बढ़ाया है।
-पहला चुनाव जिसमें विपक्ष की ओर से महंगाई-करप्शन का मुद्दा नहीं है।
–हमारी सरकार में हर क्षेत्र में विकास हुआ है।
-जितने चुनाव हुए उसमें हमें जीत मिली है। 
-ये सबसे विस्तृत चुनाव रहा है।
-हर 15 दिन में एक योजना शुरू की।
-2014 में 6 सरकारें थीं अब 16 सरकारें हैं।

सवाल-जवाब का दौर

इस दौरान सवाल जवाबों का दौर चला। एक सवाल के जवाब में अमित शाह ने कहा कि भाजपा अपने बूते पर बहुमत हासिल करेगी, 300 से ज्यादा सीटें लाएंगे। हमारे सहयोगी साथ रहेंगे, मोदी जी प्रधानमंत्री होंगे। सरकार एनडीए की ही होगी। अगर किसी को सम्मान के साथ हमारे साथ जुड़ने की इच्छा होगी तो हमारे दरवाजे खुले हैं। 

साध्वी प्रज्ञा के नाथूराम गोडसे पर दिए बयान को लेकर अमित शाह ने कहा- पार्टी ने उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया है और 10 दिन के भीतर जवाब देने को कहा है। जब वह जवाब देंगी तो पार्टी की अनुशासन समिति इस पर उचित कार्रवाई करेगी। 

अमित शाह ने कहा कि भगवा टेरर काल्पनिक बातें हैं। कांग्रेस पार्टी ने हिंदू संस्कृति को बदनाम किया है।

 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here